Bhopal News: कांग्रेस विधायक सुनील सर्राफ बोले-पंचायतों में मटेरियल सप्लाई के बहाने हो रही टैक्स चोरी!

Bhopal News: अनूपपुर जिले की कोतमा विधानसभा से कांग्रेस विधायक सुनील सर्राफ ने बड़ा दावा किया है। सर्राफ ने कहा कि ग्राम पंचायतों में कंस्ट्रक्शन मटेरियल (निर्माण सामग्री) सप्लाई में बीजेपी के नेता फर्जी वेंडर बनकर टैक्स की चोरी कर करोड़ों का फर्जीवाड़ा कर रहे हैं। सुनील सर्राफ ने भोपाल में कहा कि उन्होंने अपने विधानसभा क्षेत्र की एक ग्राम पंचायत में बड़ा फर्जीवाड़ा साबित हुआ है। विधानसभा में सवाल करने के बाद जीएसटी ने एक बर्खास्त ग्राम पंचायत सचिव को मटेरियल सप्लाई में फर्जीवाड़ा करने पर 56 लाख रुपए की रिकवरी निकाली है।

कांग्रेस विधायक सुनील सर्राफ ने कहा हमारे यहां एक सचिव ने अपने सचिवीय काल के दौरान बड़ी गडबडी की थी। मामला सामने आने के बाद उससे रिकवरी की गई और बाद में उसे बर्खास्त कर दिया गया था। इस मामले को लेकर जब मैंने विधानसभा में सवाल पूछा तो उसके ऊपर 65 लाख रुपए की वसूली के आदेश जारी हुए। कलेक्टर ने आरआरसी जारी की थी। वो हाईकोर्ट से स्टे ले आया।

सर्राफ ने बताया मैंने विधानसभा में सवाल पूछा उसके बाद 56 लाख की रिकवरी निकली। सचिव से बर्खास्त होने के बाद वह व्यक्ति ग्राम पंचायतों में गिट्टी रेत सरिया जैसे मटेरियल का सप्लायर बन गया। उसने ग्राम पंचायतों में करोड़ों का मटेरियल सप्लाई करने के बिल लगा दिए। मेरे तीन बार विधानसभा में सवाल लगाने के बाद जो जवाब आया उसमें जीएसटी ने उस पर 56 लाख रुपए की रिकवरी निकाली है। ये तो उस मामले में रिकवरी हुई है। जो बिल मैंने यहां बताए हैं।

सुनील सर्राफ ने कहा मेरे खिलाफ ऐसे व्यक्ति से एफआईआर दर्ज कराई है जिसके ऊपर मेरे विधानसभा प्रश्न के बाद 1 करोड 30 लाख की रिकवरी निकली है। वो ये कह रहा है कि वह मेरे घर के सामने मौजूद था वो तो मेरे घर से तीन किलोमीटर दूर रहता है। सब फर्जी मामला है मैनें चिडिया वाला तमंचा चला दिया तो हायतौबा मच गई। भाजपा के नेताओं के रोज धड़ाम-धड़ाम करते हुए वीडियो वायरल हो रहे हैं उनकी कोई चर्चा नहीं होती। मैं गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा और भाजपा की सरकार से कहना चाहता हूं कि कांग्रेसियों को ऐसे टारगेट मत करिए। ऐसे प्रेशर से हम शरणागत नहीं होने वाले हैं।

Leave a Comment